Tally ledger under group list in hindi |

परिचय :-

इस लेख में हमने Tally Erp9 में जो Inbuilt Groups होते है उसके बारेमे बताया हे | इस लेख को पढके आप इसके बारेमे जानकारी ले शकते हैं |

 

Tally में Groups कितने होते हैं ?

टैली में कुल २८ ग्रुप होते हे जो टैली में इनबिल्ट होते हैं | इन २८ ग्रुप्स के अलावा हम और भी ग्रुप्स बना शकते हैं |

 

Tally Erp9 में ग्रुप कैसे देखे |

GATEWAY OF TALLY –> ACCOUNT INFO –> MULTIPLE GROUP –> DISPLAY –> ALL ITEMS

 
TALLY में कोनसे-कोनसे GROUPS होते हैं ?
 

Tally Groups List

S.No. Name Of  Group Under
1 Capital Account Primary
2 Loans (Liablity) Primary
3 Current Liablities Primary
4 Fixed Assets Primary
5 Investment Primary
6 Current Asset Primary
7 Branch / Division Primary
8 Misc.Expenses (Asset) Primary
9 Suspense A/c Primary
10 Sales Accounts Primary
11 Purchase Account Primary
12 Direct Incomes Primary
13 Direct Expenses Primary
14 Indirect Incomes Primary
15 Indirect Expenses Primary
16 Reserves & Surplus Capital Account
17 Bank Od A/C Loans (Liablity)
18 Secured Loans Loans (Liablity)
19 Unsecured Loans Loans (Liablity)
20 Duties & Taxes Current Liablities
21 Provisions Current Liablities
22 Sundry Creditors Current Liablities
23 Stock In Hand Current Assets
24 Deposits (Assets) Current Assets
25 Loan & Advances (Asset) Current Assets
26 Sundry Debtors Current Assets
27 Cash In Hands Current Assets
28 Bank Accounts Current Assets
 
15 Primary Groups मेसे 9 Primary Groups जो Balancesheet में हमें देखने को मिलते हैं | वह Capital के साथ जुड़े होते हैं |
 

   Tally erp9 software installa करने के लिए यहाँ क्लिक करे |

    बाकी बचे 6 Primary Groups हमें Profit & Loss अकाउंट में देखने को मिलते हैं | वह Revenue के साथ जुड़े होते हैं |


Conclusion :-

मुझे उम्मीद हैं की आपको मेरा यह लेख (tally ledger under group list |) जरुर पसंद आया होगा .मेरी हमेशा से ही यही कोसिस रही हे की में अपने आर्टिकल में वह सारी जानकारी include करू जो  रीडर्स को चाहिए जिससे के उस आर्टिकल के सन्दर्भ में रीडर्स को  किसी दूसरी site या internet में उस आर्टिकल के सन्दर्भ में खोजने की जरुरत ही न रहे | इससे रीडर्स के टाइम की बचत होगी और एक ही जगह पे उन्हें सभी इनफार्मेशन भी मिल जाये |यदि आपके मनमे इस आर्टिकल को लेकर कोई भी doubt हैं या आप चाहते हैं की इसमें कुछ सुधार  होना चाहिए तो आप निचे Comments कर शकते हैं | यदि आपको यह पोस्ट पसंद आया या कुछ सिखने को मिला तब कृपया इस पोस्ट को Social Networks जैसे के facebook,Twitter , Instagram और pinterest पर शेयर जरुर करे |

Share On

Leave a Comment